स्वप्रमाणित घोषणा पत्र 2020 – Swa Pramanit Ghoshna Patra pdf Download

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र एक ऐसा सरकारी दस्तावेज़ हैं जिससे हर किसी का कभी न कभी वाश्ता हुआ होगा। जन्म से ले कर मृत्यु तक प्रमाण पत्र की आवश्यकता पड़ती रहती हैं। सन २०१४ से पूर्व प्रमाण पत्र को सस्थापित करने के लिए किसी सरकारी अधिकारी या किसी वकील की आवश्यकता पड़ती थी जिसके लिए एक आम व्यक्ति को १०० रुपए से लेकर ५०० रुपए तक की राशि खर्च करना पड़ता था और उसके अलावा दफ्तरों के चक्कर भी काटने पड़ते थे परन्तु सन २०१४ में सरकार ने आम नागरिक को राहत देते हुए स्वप्रमाणित घोषणा पत्र की अनुमति दे दी |
आइये जानते हैं की यह स्वप्रमाणित घोषणा पत्र फार्म up संलग्न, स्वप्रमाणित घोषणा पत्र फार्म pdf मराठी, मराठी, स्वप्रमाणित घोषणा पत्र का प्रारूप download, की जानकारी दी है|

swa pramanit ghoshna patra – स्वप्रमाणित घोषणा पत्र क्या है ?

एक ऐसा पत्र होता हैं जिसमे व्यक्ति यह प्रमाणित करता हैं कि वह ऊपर जो कुछ भी लिख रहा हैं वह सत्य हैं। अगर उसमे कोई भी कमी या गलती पाई जाए तो वह उस गलती का स्वंय उत्तरदायी होगा उसी प्रकार जब आप कहीं पर ऑन लाइन आवेदन करते हैं तो बहुत सी जानकारी आपको देनी होती है।
जिसका आपके पास कोई सबूत नहीं है उसे साबित करने के लिए आपको स्वप्रमाणित घोषणा पत्र देना होता है और यह प्रमाण पत्र शपथ प्रमाण पत्र के रूप में होता है l
इसे कानूनी स्वरूप देने के लिए 10 रू के स्टांम्प पेपर में प्रस्तुत किया जाता है l और कानूनी वैद्यथा देने के लिए इसे नोटरी से भी प्रमाणित करा लिया जाता है l

swa pramanit ghoshna patra

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र कैसे भरा जाता है ? – swa pramanit form

घोषणा पत्र को भरना बहुत ही आसान प्रक्रिया है जैसे
● शपथ कर्ता का नाम तो आप अपना नाम भरेंगे l
● पिता या पति का नाम तो आप अपने पिता का नाम भरे यदि आप विवाहित महिला हैं तो पति का नाम भरें और यदि अविवाहित हैं तो पिता का नाम भरें l
● आयु में अपनी उम्र भरें l
● जाति में आप जिस जाति के हैं भरेंl
● निवासी में अपने घर का पता भरें l
● जिला में अपने जिले का नाम भरें l
● राज्य में जिस स्टेट में रहते हैं भरें l
● बिन्दुवार जिस उद्देश्य के लिए आप घोषणा पत्र दे रहे हैं उसको दर्शाये जैसे आय के लिए, आयु के लिए, विकलांगता के लिए, जाति से संबंधित, मकान, दुकान, रोज़गार के लिए,चुनाव से संबंधित इत्यादि l
● अंत में स्थान जहां पर घोषणा पत्र आपने भरा है और दिनाँक तथा आपके हस्ताक्षर l

स्व प्रमाणित घोषणा पत्र पीडीएफ

स्व प्रमाणित घोषणा पत्र पीडीएफ डाउनलोड करने के लिए आप निचे दी हुई पीडीएफ फाइल्स को डाउनलोड कर कस्ते है| यह फ्री पीडीएफ आपको स्वप्रमाणित पत्र बनाने में पूर्ण तरह से सहायक साबित होंगी|

Swa pramanit ghoshna_patra.pdf

Swapramanit_ghoshanapatra .pdf download

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र के लाभ ?

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र का प्रारूप pdf up की कानूनी वैधता है और यह मान्य है l आपको बहुत सी जानकारी देनी है या देनी होती है पर आपको बहुत सी जानकारी देनी है या देनी होती है पर आपके पास उसे सार्वजनिक करने या साबित करने के लिए कानूनी कोई भी दस्तावेज़ न हो उस अवस्था में घोषणा पत्र या शपथ पत्र आपका दस्तावेज़ बन जाता है जिसे कानूनी मान्यता /वैधता प्रदान की गई है l

इस घोषणापत्र का प्रयोग कहां किया जाता है ?

इस घोषणा पत्र या शपथ पत्र का प्रयोग हम हर उस जगह कर सकते हैं जहां पर हमारे पास कोई प्रलेख नहीं है या अति शीघ्र उपलब्ध नहीं है l उदाहरण के लिए हमें आय कहीं दिखानी है हमें अपनी आय के स्रोत तो पता हैं पर हमारे पास कोई प्रलेख नहीं है हम उक्त राशि के लिए एक हलफ़नामा या शपथ पत्र प्रस्तुत कर सकते हैंl जो सभी व्यक्ति या विभाग को मान्य होगा l
● विद्यालय में दाख़िला लेने संबंधित प्रकिया के समय
● डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने के लिए
● विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया के समय
● निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र का प्रारूप

जैसा कि घोषणा पत्र नाम से ही पता चलता है कि कोई व्यक्ति कुछ बताना चाहता है, कुछ घोषित करना चाहता है जो उसकी जानकारी में है l
निश्चित रूप से वह जानकारी अपने संबंध में ही देगा l इसलिए शपथ पत्र भी श पथ कर्ता द्वारा अपने बारे में ही दिया जाएगा l
जो अधिकारी या नोटरी इस शपथ पत्र में दी गई जानकारी को सत्यापित करते हैं कि शपथ कर्ता ने जो जानकारी दी है वह सत्य है l
सिविल प्रक्रिया संहिता १९०८ की धारा ५३ के अधीन नियुक्त नोटरी के तहत

● ऐसा कोई भी अधिकारी या अन्य जिसे उच्च न्यायालय द्वारा इस कार्य के लिए नियुक्त गया हैं।
● किसी अन्य न्यायालय द्वारा जिसे राज्य सरकार ने इस कार्य के लिए साधारण या विशेष रूप से सशक्त किया गया।

स्वप्रमाणित घोषणा पत्र का महत्त्व

उपरोक्त तथ्यों के आधार पर हम यह निर्विवाद रूप से कह सकते हैं कि घोषणा पत्र /शपथ पत्र की एक अहम भूमिका है यह एक ऐसा प्रलेख है जिसका कानूनी महत्व है और मान्यता है l इसकी कानूनी वैधता सर्व प्रमाणित है कोई भी व्यक्ति या विभाग इस अभिलेख को अमान्य नहीं कर सकता है l

उप संहार:

हमारे देश में अधिकतर लोग ऐसे हैं जो कि योग्यता के आधार पर पात्र हैं पर वो मात खा जाते हैं क्योंकि उनके पास उपयुक्त दस्तावेज़ या तो नहीं है या उपलब्ध नहीं हैं और उन्हें अपात्र कर दिया जाता है l उनकी सहभागिता भी सुनिश्चित हो इसके लिए शपथ पत्र की व्यवस्था कानून में की गई और इसे कानूनी मान्यता दी गई है।

Share

You may also like...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *