मेरा पानी मेरी विरासत योजना – Portal registration & Online Form (पंजीकरण फॉर्म)

Mera Pani Meri Virasat Yojana ” हरियाणा राज्य सरकार के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा चलाई गई योजना है। इस योजना के द्वारा सरकार कुछ ऐसे कदम उठा रही है, जिसमें धान के स्थान पर ऐसी फसलों को काफी अधिक प्रोत्साहित किया जाएगा, जिनके वृद्धि के लिए कम जल की आवश्यकता होती है। इसके अंतर्गत किसानों को सरकार की तरफ से कई प्रकार की सुविधाएं दी जाएगी जैसे उन्हें प्रोत्साहन राशि के रूप में प्रति एकड़ 7,000 रुपए दिए जाएंगे।

आज हम आपको इस ब्लॉग के माध्यम से बताएंगे, कि Mera Pani Meri Virasat Yojana क्या है? इससे जुड़ी समस्त जानकारी जैसे इसके लाभ, विशेषताएं, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज तथा इसके लिए आवेदन कैसे करें?

Haryana Mera Pani Meri Virasat Yojana

मेरा पानी मेरी विरासत योजना की योजना की विशेषता कुछ इस प्रकार हैं:

  • हरियाणा के मुख्यमंत्री ने विशेष रूप से जल संरक्षण के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की है। इसमें जल संरक्षण को विशेष रूप से बढ़ावा दिया जा रहा है।
  • इस योजना की मुख्य विशेषता यह है कि इसमें हरियाणा के किसान अधिक जल ग्रहण करने वाले फसल धान की खेती करने के अलावा कम जल ग्रहण करने वाले फसलों जैसे मक्का, अरहर, मूंग, तिल , कपास , उड़द तथा सब्जी की खेती भी आराम से कर सकते हैं।
  • हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने यह भी बताया है कि इस योजना के प्रचार के लिए जल्द से जल्द वेब पोर्टल बनाया जाएगा जिस पर किसान अपनी समस्याओं का निदान पाने के लिए अपनी तरफ से आवाज उठा सकेंगे।
  • भावी पीढ़ी के लिए पानी की उपलब्धता बनाए रखने के लिए भी इस योजना को बढ़ावा दिया जा रहा है जो अपने आप में एक महत्वपूर्ण विशेषता है।

Haryana Mera Pani Meri Virasat Highlights

योजना मेरा पानी मेरी विरासत योजना
शुरू की गयी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर
लाभार्थी राज्य के किसान
उद्देश्य किसानो को प्रोत्साहन धनराशि प्रदान करना

मेरा पानी मेरी विरासत योजना हरियाणा उद्देश्य

  1. हरियाणा में जल की अत्यधिक कमी होने के कारण किसानों को धान की खेती करने में समस्याओं का सामना करना पड़ता है।अतः उन्हें राहत दिलाने के उद्देश्य से इस योजना का विकास किया गया है।
  2. इस योजना का मुख्य उद्देश्य जल संरक्षण की व्यवस्था को बढ़ावा देना है जिससे आगे आने वाले समय में किसी भी प्रकार की कोई समस्या उत्पन्न ना हो।
  3. सरकार की इस योजना के द्वारा किसान केवल धान की फसल ही नहीं बल्कि इसके अलावा कई प्रकार के कम जल ग्रहण करने वाले फसलों जैसे अरहर, मूंग, तिल, उड़द आदि फसलों की खेती आसानी से कर सकेंगे।
  4. इस योजना का उद्देश्य हरियाणा के किसानों को आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी जिससे उन्हें किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं होगी। इसके लिए उन्हें आर्थिक अनुदान के रूप में ₹7000 प्रति एकड़ भूमि पर दिया जा रहा है।
  5. सरकार के इस योजना मेरा पानी मेरी विरासत के दौरान किसानों को फसल विविधीकरण अपनाने के लिए काफी प्रेरित किया जा रहा है जो इसके लिए महत्वपूर्ण उद्देश्य है।
  6. मेरा पानी मेरी विरासत योजना की सबसे महत्वपूर्ण और अंतिम विशेषता यह है कि इसमें भावी पीढ़ी की जल संरक्षण संबंधी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए इसका विकास किया गया है।

mera pani meri virasat scheme benefits (लाभ)

इसके प्रमुख लाभ निम्नलिखित हैं,

  1. मेरा पानी मेरी विरासत योजना का लाभ हरियाणा के वे किसान उठा सकते हैं, जो अपनी भूमि में कृषि कार्य और उसमें विभिन्न तरह के फसलों की खेती करते हैं।
  2. इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है, कि किसान धान की फसल को छोड़कर अन्य फसलों की कृषि कर सकते हैं, जिसकी खरीद न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जाएगी।
  3. इस योजना के तहत सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि के रूप में ₹7000 दिए जा रहे हैं, जो कि प्रति एकड़ भूमि पर रखे गए हैं।
  4. राज्य सरकार द्वारा यह भी कहा गया है, कि इससे माइक्रो इरीगेशन और ड्रिप इरिगेशन के लिए 80 फ़ीसदी सब्सिडी भी दी जाएगी।
  5. मक्का और दलहन की खेती में आवश्यक बुवाई फार्म मशीनरी उपलब्ध भी किए जाएंगे, जो अपने आप में एक महत्वपूर्ण लाभ के रूप में जाना जा सकेगा।

 पात्रता(Eligibility)

  • आवेदक हरियाणा राज्य का स्थाई निवासी होना जरूरी है
  • आवेदक के पास कृषि योग्य भूमि के कागजात होना जरूरी है।

आवश्यक दस्तावेज(Important Documents)

  • स्थाई निवासी प्रमाण पत्र
  • कृषि योग्य भूमि के कागज
  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर

मेरा पानी मेरी विरासत योजना के द्वारा सरकार ने किसानों को अपनी तरफ से धन राशि के रूप में प्रति एकड़ भूमि पर ₹7000 की सहायता प्रदान करने का जो फैसला लिया है, वह सर्वोपरि हैं, और इसके अतिरिक्त जल संरक्षण की व्यवस्था को भी प्रोत्साहित किया है ताकि आने वाली भावी पीढ़ी के लिए यह कारगर सिद्ध हो सके। हरियाणा के किसानों को कई प्रकार की खेती संबंधी समस्याओं से निदान मिलेगा और खेती के लिए खुद को प्रोत्साहित भी कर सकेंगे। सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम वाकई में सराहनीय है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना – @upagripardarshi.gov.in Portal Registration

mera pani meri virasat online registration portal

हरियाणा राज्य के इच्छुक व्यक्ति जो इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं,  उन्हें इस चीज के लिए आवेदन फॉर्म भरना होगा और यह आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन होती है। इसके पश्चात आप सरकार की इस नई योजना का लाभ उठा सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होता है। इसके तुरंत बाद ही एक होम पेज खुलता दिखाई देता है।

Mera Pani Meri Virasat Yojana

  • इस होम पेज पर जाकर आपको New Registration के ऑप्शन पर जाकर क्लिक करना होता है। इसके बाद ही एक नया पेज आपके सामने खुल जाएगा।

Mera Pani Meri Virasat Yojana

  • इसके बाद आपको निजी आधार नंबर डालना होगा और फिर Next बटन दबाना होगा।
  • आधार नंबर से जुड़ी हुई जानकारी देने के बाद आपको mera pani meri virasat online form मे फार्मर डिटेल्स भरनी होगी तथा टोटल लैंड होल्डिंग और फसल की जानकारी भरनी होगी।
  • इससे जुड़ी हुई हर प्रकार की जानकारी भरने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा। इस तरह से आपकी पूरी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया सही तरीके से पूर्ण हो जाती है।
Share

You may also like...

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *